Connect with us

Jivani

Neeraj Chopra Biography, Gold Medal, Family, Age, Career, Wiki & More (In Hindi)

Neeraj Chopra Biography In Hindi

टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, आखिरकार भारत का इंतजार खत्म हुआ क्योंकि भारत में, टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 का पहला गोल्ड मेडल ( Gold Medal ) आ चुका है जिसे लेकर पूरे भारतवर्ष में, हर्षो-उल्लास और उत्सव का मौहाल देखा जा रहा है और इसके नायक है 24 दिसम्बर, 1997 को जन्मे, हरियाणा के पानीपत से आने वाले नीरज चोपड़ा, जिन्होंने ना केवल अपने खेल का उम्दा व सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है बल्कि साथ ही साथ पूरे विश्व में, भारत का तिरंगा आन, बान और शान के साथ फहरा दिया है।

भारत को टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, पहला स्वर्ण पदक दिलाने वाले नीरज चोपड़ा के जीवनी और सफलता की कहानी पर केंद्रित होगा हमारा ये आर्टिकल जिसमें हम, अपने सभी पाठको, युवाओं व एथलीटो प्रेरणा व प्रोत्साहन के नये स्रोत कहे जाने वाले नीरज चोपड़ा का पूरा जीवन परिचय अर्थात् Neeraj Chopra Biography in Hindi Wikipedia, Neeraj Chopra Job, Neeraj Chopra Salary Per Month के साथ ही साथ Neeraj Chopra Biography religion और Neeraj Chopra Biography Education की पूरी जानकारी विस्तारपूर्वक प्रदान करेंगे।

हमारा ये पूरा आर्टिकल Biography of Neeraj Chopra in Hindi पर केंद्रित होगा जिसमें हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि, अपने सभी पाठको व विशेषकर युवाओँ को नीरज चोपड़ा के जीवन की पूरी जानकारी प्रदान की जाये ताकि आप सभी भारत के बेटे से प्रेरणा व प्रोत्साहन प्राप्त करके ना केवल अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें बल्कि साथ ही साथ भारत को भी अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर गौरवान्वित कर सकें।

नीरज चोपड़ा के हाथो मिला भारत को पहला गोल्ड मैडल:

लम्बे इंतजार के बाद आखिरकार Neeraj Chopra Olympic Gold Medal के हाथों भारत को टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, पहला स्वर्ण पदक / गोल्ड मैडल प्राप्त हो गया है।

आइए जानते है कैसे मिला भारत को ये ऐतिहासिक स्वर्ण पदक / गोल्ड मैडल। नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए जैवलिन थ्रो गेम के तहत पहले उन्होंने फाइनल्स में, अपनी जगह पक्की की और पक्के इरादों को अंजाम देते हुए फाइनल्स के पहले प्रयास में ही 87.58 मीटर की दूरी तरफ भाला भेंक कर ना केवल अटूट रिकॉर्ड कायम किया है बल्कि टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 के ऐतिहासिक पन्नो में, स्वर्णिम अक्षरों में भारत का नाम दर्ज कर दिया है।

भारतवर्ष का पूरे विश्व मे, शंखनाद करने वाले इन्हीं नीरज चोपड़ा पर केंद्रित होगा हमारा ये आर्टिकल जिसमे हमारा पूरा प्रयास होगा कि, हम आप सभी को विस्तार से Neeraj Chopra Biography प्रदान करें ताकि आप भी बेहद करीब से भारत के इस सपूत के बारे में, ना केवल जान पायें बल्कि प्रेरणा व प्रोत्साहन भी प्राप्त कर सकें।

Neeraj Chopra Biography

आइए अब हम, कुछ बिंदुओं की मदद से अपने सभी पाठको व युवाओं को विस्तार से Neeraj Chopra Biography in Hindi के बारे में, बतायेंगे जो कि, इस प्रकार से हैं:

The Story of Neeraj Chopra

Name: Neeraj Chopra
Birthday: 24 December 1997
Father’s Name: Satish Kumar
Age: 23 Years
Height: 178 CM / 6 ft
Weight: 86 KG
Olympic: 1 Gold Medal
Best Throw Record: 88.1 Meters
Game: Javelin Throw
District & State: Panipat – Haryana

नीरज चोपड़ा – जन्म, परिवार और पारिवारीक पृष्ठभूमि: (Neeraj Chopra Family)

  • नीरज चोपड़ा का जन्म कब, कहां और किसके यहां हुआ?

आइए आपको बता दें कि, पूरे भारतवर्ष को टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, स्वर्ण पदक दिलाने वाले नीरज चोपड़ा का जन्म 24 दिसम्बर, 1997 को हरियाणा के पानीपत में, रहने वाले पिता सतीश कुमार व माता सरोज देवी नामक दम्पत्ति के यहां हुआ था।

  • नीरज चोपड़ा के कितने भाई-बहन है?

हम, आपको बता दें कि, नीरज चोपड़ा के कुल 5 भाई-बहन है जिसमें से नीरज चोपड़ा सबसे बड़े बेटे है।

  • नीरज चोपड़ा के माता-पिता क्या करते है?

नीरज चोपड़ा की कीर्ति से प्रकाश में, आये उनके पिता श्री. सतीश कुमार जी हरियाणा के पानीपत में, एक छोटे से गांव खंडरा में, खेती – बाड़ी का काम करते है वहीं नीरज चोपड़ा की माता जी घरेलू महिला है।

नीरज चोपड़ा का शैक्षणिक सफ़र कैसा रहा? Neeraj Chopra Education 

  • नीरज चोपड़ा ने, अपनी शुरुआती शिक्षा कहां से प्राप्त की?

टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, स्वर्ण पदक विजेता श्री. नीरज चोपड़ा ने, अपनी शुरुआती शिक्षा अपने पैतृक राज्य हरियाणा से ही प्राप्त किया है।

  • नीरज चोपड़ा का शैक्षणिक सफर कैसा रहा?

नीरज चोपड़ा के शैक्षणिक सफर को हम, कुछ बिंदुओँ की मदद से प्रस्तुत करना चाहते है जो कि, इस प्रकार से हैं:–

  • नीरज चोपड़ा ने, अपनी प्रारम्भिक शिक्षा हरियाणा से ही प्राप्त की,
  • प्रारम्भिक शिक्षा पूरी होने के बाद नीरज चोपड़ा ने, बी.बी.ए कॉलेज में, दाखिला लिया और यहां से इन्होंने अपनी स्नातक की डिग्री प्राप्त की आदि।

Neeraj Chopra Coach: नीरज चोपड़ा के कोच कौन है व कहां के है?

  • नीरज चोपड़ा, जो कि, जैवलिन थ्रो के खिलाड़ी है इन्होंने श्री, उवे होन जो कि, इनके कोच हैं से प्रशिक्षण प्राप्त किया है,
  • आपको बता दें कि, नीरज चोपड़ा के कोच उवे होन, जर्मनी के रहने वाले है और सुप्रसिद्ध जैविलय एथलीट रह चुके है।

Neeraj Chopra Age: नीरज चोपड़ा – उम्र व व्यक्तिगत जीवन पर एक नज़र:

  • वर्तमान समय में, नीरज चोपड़ा की उम्र क्या है?

आपको जानकर हैरानी होगी कि, टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 मे, भारत को पहला गोल्ड मैडल दिलाने वाले नीरज चोपड़ा अभी 23 वर्षीय एक युवा है जिन्होंने इतनी छोटी आयु मे ही भारतवर्ष का नाम रौशन कर दिया है।

  • क्या नीरज चोपड़ा शादी-शुदा है या कोई लव अफेयर है?

ताज़ा जानकारी के अनुसार, नीरज चोपड़ा अविवाहित है और जहां तक बात है उनके लव अफेयर्स की तो इस संबंध में, हमारे पास कोई पुख्ता जानकारी नहीं है।

भाला फेंक एथलीट अर्थात् जैवलिन थ्रो में, कैसा रहा नीरज चोपड़ा का करियर?

भारत को पहला गोल्ड मैडल दिलाने वाले नीरज चोपड़ा के भाला फेंक एथलीट अर्थात् जैवलिन थ्रो में उनके करियर के बारे में, जानकारी प्रदान करें जो कि, इस प्रकार से हैं:

  1. आज के विश्व-प्रसिद्ध भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने, महज 11 वर्ष की आयु में ही भाला फेंकना शुरु कर दिया था,
  2. साल 2014 में, नीरज चोपड़ा ने, 7,000 रुपय की कीमत पर अपने लिए पहला भाला खरीदा था,
  3. नीरज चोपड़ा ने, अपने खेल प्रदर्शन को उम्दा व सर्वश्रेष्ठ बनाते हुए अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलने के लिए कुल 1,00,000 रुपयो की कीमत वाला भाला खरीदा था,
  4. नीरज चोपड़ा के लिए साल 2016 बेहद सौभाग्यशाली रहा क्योंकि इसी साल उन्हें अपने खेल को और सर्वश्रेष्ठ बनाने के लिए एक नया रिकॉर्ड कायम किया जिससे उनके खेल को काफी लाभ पहुंचा,
  5. साल 2017 में, नीरज चोपड़ा ने, पहली बार 50.23 मीटर की दूरी तय करने वाला भाला फेंक कर मैच अपने नाम किया था,
  6. साल 2017 में ही नीरज चोपड़ा ने, IAAF Diamond League Event में भाग लेकर अपने लिए 7वां स्थान सुरक्षित किया था और
  7. इसके बाद नीरज चोपड़ा के कठिन प्रयासों ने उन्हें ना केवल नये- नेय कीर्तिमान रचने का मौका दिया बल्कि टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, भारत को पहला गोल्ड मैडल दिलाने के काबिल भी बनाया ।

नीरज चोपड़ा ने, कौन – कौन से रिकॉर्ड्स अपने नाम किये है?

  • अंडर 16 नेशनल जूनियर चैम्पियनशिप का आयोजन साल 2012 में, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में किया गया था जिसमें नीरज चोपड़ा ने, 68.46 मीटर की दूरी वाला भाला फेंक कर गोल्ड मैडल अपने नाम किया था,
  • साल 2013 में, आयोजित हुए नेशनल यूथ चैम्पियनशिप द्धारा दूसरा स्थान प्राप्त किया गया,
  • वहीं दूसरी तरफ नीरज चोपड़ा ने, साल 2015 में, आयोजित हुए इंटर यूनिवर्सिटी चैम्पियनशिप में, 81.04 मीटर की दूरी वाला भाला फेंक कर एज ग्रुप का रिकॉर्ड अपने नाम किया,
  • साल 2016 में, आयोजित जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में, 86.48 मीटर की दूरी वाला भाला फेंक कर ना केवल गोल्ड मैडल हासिल किया बल्कि एक नया रिकॉर्ड भी स्थापित किया,
  • इसी साल अर्थात् 2016 मे ही नीरज चोपड़ा ने, दक्षिण एशियाई खेलो में 82.23 मीटर की दूरा वाला भाला फेंक कर एक और गोल्ड मैडल अपने नाम किया,
  • कॉमनवेल्थ गेम्स जिसका आयोजन साल 2018 में, गोल्ड कोस्ट में किया गया था में, नीरज चोपड़ा ने कुल 88.06 मीटर का भाला फेंक कर ना केवल गोल्ड मैडल जीता बल्कि भारतवर्ष का नाम भी रौशन किया,
  • नीरज चोपड़ा को यह कीर्तिमान प्राप्त है कि, नीरज चोपड़ा ही पहले जैवलिन थ्रो खिलाड़ी है जिन्होंने एशियन गेम्स में, गोल्ड मैडल प्राप्त किया,
  • नीरज चोपड़ा के नाम एक दूसरा कीर्तिमान यह भी है कि, एक ही साल में, नीरज चोपड़ा के द्धारा एशियन गेम्स व कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मैडल प्राप्त करने वाले दूसरे खिलाड़ी है और इसके पहले खिलाड़ी के रुप में, मिल्खा सिंह द्धारा साल 1958 में, बनाया गया रिकॉर्ड आज भी जारी है।

टोक्यो ओलम्पिक्स 2020 में, कैसा रहा नीरज चोपड़ा का प्रदर्शन?

टोक्टो ओलम्पिक्स 2021 में, भारत को पहला गोल्ड मैडल दिलाने वाले नीरज चोपड़ा द्धारा टोक्यो ओलम्पिक्स 2020 में भी गोल्ड मैडल प्राप्त किया गया था। हम, आपको बता दें कि, टोक्यो ओलम्पिक्स 2020 की 7 अगस्त को 4 बजकर 50 मिनट पर नीरज चोपड़ा का मैच निर्धारित किया था जिसमें उम्दा व सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए नीरज चोपड़ा ने, 87.58 मीटर की दूरी तय करने वाला भाला फेंक कर गोल्ड मैडल भारत के नाम किया था और पहला स्थान प्राप्त करके पुरे भारतवर्ष को गौरवान्वित किया था।

नीरज चोपड़ा का बेस्ट थ्रो कौन सा था?

जहां तक बात की जाये नीरज चोपड़ा के सबसे बेस्ट थ्रो कि, वो आज के ही दिन नीरज चोपड़ा द्धारा फेंका गया 87.58 मीटर की दूरी वाला भाला ही उनका सबसे लेटेस्ट और बेस्ट थ्रो है।

और यदि इससे पहले के नीरज चोपड़ा के बेस्ट थ्रो को देखा जाये तो हम, कह सकते है कि, नीरज चोपड़ा द्धारा ग्रुप में 86.65 मीटर की दूरी वाला भाला फेंक कर पहला स्थान सुरक्षित किया गया जो कि, उनका आज से पहले का बेस्ट थ्रो था।

नीरज चोपड़ा की वर्तमान में, बर्ल्ड रैंकिंग क्या है?

  • जैवलिन थ्रो कैटेगरी में, नीरज चोपड़ा की वर्तमान वर्ल्ड रैंकिंग-चौथे स्थान पर है और
  • साथ ही साथ नीरज चोपड़ा द्धारा अनेको मैडल व पुरस्कारों को अपने नाम किया जा चुका है।

Neeraj Chopra Salary & Net Worth: नीरज चोपड़ा का वेतन व नेटवर्थ क्या है?

  1. नीरज चोपड़ा के वेतन को लेकर कोई स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आई है हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि, नीरज चोपड़ा द्धारा जीते गये वेतन से उनकी अच्छी – खासी आमदनी हो जाती है और
  2. यदि बात की जाये नीरज चोपड़ा के कुल सम्पत्ति की तो हम, आपको बता दें कि, इस समय में, नीरज चोपड़ा की कुल सम्पत्ति 5 मिलियन डॉलर के आस-पास की है।

Neeraj Chopra Awards: नीरज चोपड़ा को कौन-कौन से पुरस्कार व अवार्ड्स प्राप्त हो चुके है?

  • साल 2012 में, नीरज चोपड़ा द्धारा राष्ट्रीय जूनियर चैम्पियनशिप गोल्ड मैडल अपने नाम किया गया,
  • साल 2013 में, नीरज चोपड़ा द्धारा राष्ट्रीय युवा चैम्पियनशिप रजत पदक अपने नाम किया गया,
  • वहीं साल 2016 में, नीरज चोपड़ा द्धारा तीसरा विश्व जूनियर अवार्ड अपने नाम किया गया,
  • साल 2016 में, जाकर नीरज चोपड़ा द्धारा एशियाई जूनियर चैम्पियनशिप रजत पदक अपने नाम किया गया,
  • साल 2017 में, नीरज चोपड़ा द्धारा एशियन एथलेटिक्स चैम्पियनशिप गोल्ड मैडल अपने नाम किया गया,
  • साल 2018 में, नीरज चोपड़ा द्धारा एशियाई खेल चैम्पियनशिप स्वर्ण गौरव अपने नाम किया गया और
  • साल 2018 में, नीरज चोपड़ा द्धारा अर्जुन पुरस्कार अपने नाम किया गया।

नीरज चोपड़ा का आर्मी ऑफिसर वाला इतिहास क्या है?

हम, आप सभी को बता दें कि, टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में भारत को पहला गोल्ड मैडल दिलाने वाले भारतीय नायक नीरज चोपड़ा, इससे पहले भारतीय सेना में, एक सूबेदार के पद पर अर्थात् जूनियर कमांड ऑफिसर के पद पर कार्यरत थे।

नीरज चोपड़ा के आर्मी इतिहास के इस शानदार तथ्य को जानकर आपको बेहद हैरानी होगी कि, नीरज चोपड़ा महज 19 साल की आयु में ही भारतीय सेना में, ना केवल शामिल हो गये थे बल्कि साथ ही साथ राजपूताना राइफल्स चलाया करते थे जो कि, अपने आप में, गौरवपूर्ण बात है।

नीरज चोपड़ा द्धारा जीते गये गोल्ड मैडल का भारतीय इतिहास में क्या महत्व है?

  1. आज से पहले भारतवर्ष को पहले कभी ओलम्पिक खेलो में, गोल्ड मैडल नहीं मिला था लेकिन आज नीरज चोपड़ा द्धारा जीते गये गोल्ड मैडल से ना केवल पूरे भारतवर्ष का मस्तक ऊंचा हुआ है बल्कि इसने भारतीय इतिहास को भी गौरवान्वित कर दिया है,
  2. साल 2008 में, अभिनव बिंद्रा द्धारा गोल्ड मैडल जीता गया था जिसके बाद एक लम्बे सूखे के बाद अब जाकर नीरज चोपड़ा द्धारा भारत को गोल्ड मैडल की प्राप्ति हुई है,
  3. नीरज चोपड़ा द्धारा भारत को प्राप्त हुए गोल्ड मैडल का महत्व यह भी है कि, लम्बे 13 सालों के बाद जाकर भारत को ओलम्पिक्स में, गोल्ड मैडल प्राप्त हुआ है,
  4. और इसके साथ ही नीरज चोपड़ा ट्रैक एंड फील्ड इवेंट में, भारत के लिए ओलम्पिक्स में, गोल्ड मैडल जीतने वाले पहले एथलीट बन गये है और
  5. अन्त में, नीरज चोपड़ा द्धारा जीते गये इस गोल्ड मैडल का सबसे बड़ा महत्व यह है कि, भारत ने, अन्तिम बार अब से ठीक 121 साल पहले एथेलेटिक्स में पहला पदक जीता था और अब जाकर 121 सालों के बाद में, भारत द्धारा गोल्ड मैडल जीत कर इसे स्वर्णिम अक्षरों में, इतिहास के पन्नों में दर्ज कर दिया गया है।

नीरज चोपड़ा को उनके कीर्तिमान के लिए कौन-कौन से पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है?

  • हरियाणा सरकार ने, अपने इस बेटे को टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, गोल्ड मैडल जीतने के उपलक्ष्य में 6 करोड़ रुपयो की नकद ईनामी राशि, सरकारी नौकरी व आधी कीमत पर ज़मीन देने का ऐलान किया है,
  • वहीं पंजाब सरकार द्धारा नीरज चोपड़ा को 2 करोड़ रुपयों की नकद राशि प्रदान करने का ऐलान किया गया है व नीरज चोपड़ा के इस विजय से प्रेरित व प्रोत्साहित होकर पंजाब सरकार ने, घोषणा की है कि, अब से पंजाब के स्कूलों व सड़को का नाम ओलम्पिक खेलों के विजेताओं के नाम पर रखा जायेगा,
  • उत्तर प्रदेश सरकार की गोरखपुर नगर निगम द्धारा नीरज चोपड़ा को उनकी सफलता के लिए 1 लाख रुपयो का नकद ईमान व देश-वापसी पर भव्य स्वागत करने का ऐलान किया है,
  • वहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड अर्थात् बी.सी.सी.आई द्धारा नीरज चोपड़ा को कुल 1 करोड़ रुपयो की नकद राशि का ईनाम दिया जायेगा और
  • अन्त में, इंडिगो कम्पनी में, नीरज चोपड़ा को उनकी ऐतिहासिक सफलता के लिए पूरे 1 साल तक अनलिमिटेड़ फ्री ट्रवल सुविधा प्रदान करने का ऐलान किया है।

उपसंहार:

भारतवर्ष का नाम अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर गौरवान्वित करने वाले नीरज चोपड़ा पर केंद्रित अपने इस आर्टिकल में, हमने आप सभी को अलग-अलग बिंदुओँ की मदद से Neeraj Chopra Biography in Hindi की पूरी जानकारी  प्रदान की ताकि हमारे सभी पाठक व युवा, टोक्यो ओलम्पिक्स 2021 में, गोल्ड मैडल विजेता नीरज चोपड़ा से प्रेरणा व प्रोत्साहन प्राप्त करके ना केवल अपने लक्ष्यो की प्राप्ति कर सकें बल्कि साथ ही साथ पूरे भारतवर्ष का नाम भी गौरवान्वित कर सकें और यही हमारे इस आर्टिकल का मौलिक व प्राथमिक लक्ष्य है।

अन्त हमें, पूरी उम्मीद व आशा है कि, आपको हमारा ये आर्टिकल Neeraj Chopra Biography जरुर पसंद आया होगा जिसके लिए ना केवल आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक करेंगे, शेयर करेंगे बल्कि साथ ही साथ अपने विचार व सुझाव भी कमेंट करके हमें, बतायेंगे ताकि हम, इसी तरह के आर्टिकल आपके लिए लाते रहें।

 

सम्बंधित जानकारी को भी जरूर देखें:

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement