Connect with us

Dialogues

Dilip Kumar Quotes & Dialogues in Hindi: दिलीप कुमार कोट्स और फिल्मी डायलॉग

Dilip Kumar Quotes

दिलीप कुमार साहब हम एक महान कलाकार जिनका असली नाम Dilip Kumar Real Name ‘यूसुफ खान’ था। 

“बहुत सारा समय और रचनात्मकता तैयार करता एक कला और उसमें रचते एक कलाकार।”

इस वाक्य से हमें यह समझ आता है कि, एक कलाकार जब दुनिया छोड़कर जाता है,तो उसकी रची कला से वह हमेशा के लिए दुनिया में याद किया जाता है। ऐसे ही फिल्मी जगत के बहुत बड़े कलाकार,एक दिग्गज हस्ती और जनता के दिल में बसने वाला नाम।

दोस्तों हम बात कर रहे हैं दिलीप कुमार साहब की। 90 के दशक में जब बाहर की दुनिया फिल्मी दुनिया से वाकिफ हो रही थी तब फिल्मी दुनिया के सुपरहिट हीरो दिलीप कुमार जी भी चमकते सितारों में से एक थे।दिलीप कुमार जी ने बहुत सी ब्लॉकबस्टर फिल्में दी। जैसे कि मुग़ल-ए-आज़म, राज कपूर, सौदागर, देवदास, कर्म, नया दौर और ऐसी ही कुछ 65 से ज्यादा फिल्मों में दिलीप कुमार साहब ने रोमांटिक अंदाज से दुनिया पर अपना जादू चलाया। वह एक बेहतरीन कलाकार के साथ-साथ एक ऐसे व्यक्तित्व भी थे जो दुनिया के लिए एक मिसाल थी।

दिलीप कुमार सफलता के 7 प्रेरणादायक नियम

दिलीप कुमार साहब जी के बहुत से साक्षात्कार से पता लगा कि वह ऐसी कौन सी 7 बातें थी जिन पर विश्वास करके उन्होंने अपना जीवन मिसाल के तौर पर सभी के सामने पेश किया। आइए जानते हैं कि किस तरह हम भी दिलीप कुमार साहब की तरह एक महान कलाकार और महान व्यक्तित्व की तरह अपना नाम इतिहास में दर्ज करा सकते हैं।

1. अपने पर विश्वास रखो 

हर कलाकार अपने जीवन में कई बातों पर विश्वास करता है।पर दिलीप कुमार साहब का सबसे पहला मंत्र यह था कि आप खुद पर विश्वास करें, जी हां,दोस्तों जब भी अगर आप किसी कठिनाई में हों, किसी चीज में दुविधा हो रही हो कि, किसे चुना जाए और किसे ना चुना जाए। या फिर जब जिंदगी के कठिन फैसले लिए जा रहे हो तो सबकी सुनकर खुद पर विश्वास कर एक अटल फैसला लेना ही एक कलाकार की सबसे बड़ी उपलब्धि होती है। कभी-कभी ऐसा भी होता है कि लोग आपकी कला पर विश्वास नहीं करते। ऐसा जानने के बाद कलाकार लोगों को सिद्ध करने में लग जाता है कि वह कितना काबिल है। पर असलियत में खुद पर विश्वास सिद्ध करना ही सबसे ज्यादा जरूरी है।

2. अपनी खुद की शैली खोजें

दिलीप कुमार साहब अपने रोमांटिक अंदाज के लिए जाने जाते थे और उनका मानना भी यही था कि आप की कला को पेश करने का आपका अपना और एक अलग तरीका होना चाहिए। जी हां दोस्तों उन सात बातों में से अपने जीवन में अपनाने वाली दूसरी बात यही है। हमें कभी भी किसी और की कला को चुराना नहीं चाहिए ।और उसकी तरह करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। दूसरे से प्रेरणा लेना और बिल्कुल उसकी तरह करने में अंतर समझना ही एक कलाकार की महानता को दर्शाता है।

3. दूसरों से सीखें और उनकी सराहना करें

एक कलाकार अपने कार्यशैली के जीवन में दूसरे कलाकारों से सीखता भी है और उनको सराहता भी है। जी हां दोस्तों ऐसी तीसरी बात जिस पर दिलीप कुमार साहब विश्वास करते थे। वह था दूसरे कलाकारों से सीखना और उन्हें सराहना। किसी भी कला को सीखते सीखते कलाकार शून्य से दिग्गज पदवी पर जाता है। जब वह सीख रहा होता है तो वह अपने दिग्गज कलाकारों से उसे सराहा जाए, वो ऐसी उम्मीद रखता है।और कुछ कलाकार ऐसे होते हैं कि वह दिग्गज होने के बाद सीख रहे कलाकारों को सम्मान नहीं देते। दिलीप कुमार साहब का मानना था, हम सभी को हमारे साथी कलाकार को सराहना चाहिए और नए-नए शैलियों के बारे में सीखना भी चाहिए।

4. कोई फर्क नहीं पड़ता कि खुद को क्या सुधारें

दिलीप कुमार साहब का मानना था कि कुछ भी हो जाए अपने आप में अच्छे बदलाव लाते रहिए और खुद को बढ़ाते रहिए। यह बहुत ही आम बात है कि जीवन में कठिनाइयां आती रहती हैं। पर उन कठिनाइयों का सामना करना और उस समय खुद में अच्छे बदलाव लाना बहुत जरूरी है।क्योंकि, अगर हम कठिनाइयों को देख कर रुक जाएंगे तो हमारी कला वहीं थम जाएगी। कभी-कभी लोगों के सामने बहुत से ऐसे कठिनाइयों के पत्थर आ जाते हैं जिन्हें हटाना मुश्किल हो जाता है। उस समय खुद पर नियंत्रण रखना, शांति बनाए रखना, और खुद में अच्छे बदलाव लाना बहुत मुश्किल होता है। क्योंकि, अक्सर देखा गया है कि ऐसे पड़ाव पर लोग नशे करने लग जाते हैं, गलत तरीके से पैसा कमाने लगते हैं, और भी गलत रास्तों को अपना लेते हैं पर ऐसा करते ही कलाकार की कला वही मर जाती है। तो एक कला को जीवित रखने के लिए हमेशा ध्यान रखें कि कैसा भी वातावरण हो कैसा भी लोगों का व्यवहार हो, आपको आगे ही बढ़ना है और अपने अंदर अच्छाइयों को बढ़ाना है।

5. स्थिति के अनुरूप ढालना

इससे पहले वाले पॉइंट में मैंने आपको बताया कि कभी-कभी वातावरण, स्थितियां, लोगों का व्यवहार, थोड़ा बदला हुआ सा होता है। तो हमारी पांचवी बात यही है कि, स्थिति को देखते हुए खुद के अंदर बदलाव लाना चाहिए अगर आपको किसी जगह अच्छा नहीं लग रहा है तो वहां पर रुकिए, आसपास के वातावरण को देखिए, सोचिए कि आप को क्यों अच्छा नहीं लग रहा है, और खुद में ही बदलाव लाएं।

6. विनम्र बने

अब हम बात करेंगे ऐसी ही एक और ज्ञानवर्धक बात की जो है कि हमेशा विनम्र बने रहे कुछ कलाकार थोड़ा सा नाम कमाने के बाद और लोगों को तुच्छ मानकर उनके साथ गलत व्यवहार करते हैं। तो दिलीप कुमार साहब का मानना है कि हर एक कलाकार को विनम्र होना बहुत आवश्यक है। एक कलाकार जब अपने आसपास के लोगों का विनम्र तरीके से सत्कार करता है तो कला को कुछ ज्यादा नाम और कलाकार को आशीष मिलता है।

7. अपने काम का नाम बनाओ

अब बात करते हैं हमारे आर्टिकल के अनुसार आखिरी ऐसी बात की जिस पर महान कलाकार दिलीप कुमार साहब विश्वास करते थे और लोगों को भी प्रेरणा देते थे कि वह इन बातों पर ध्यान दें तो वह सातवीं बात यह थी कि पैसा नहीं अपने काम का नाम बनाओ। इस वाक्य का मतलब है कि हमें पैसे बनाने से ज्यादा ध्यान देना चाहिए कि हमारी कला कितनी अच्छी निखर कर आ रही है और हमारी कला को लोग कितना वजूद दे रहे हैं। 

Dilip Kumar Quotes in Hindi

“बड़ा आदमी अगर बनना हो तो.. छोटी हरकतें मत करना।” Dilip Kumar

Best Dilip Kumar Quotes Hindi

“भारत मेरे लिए सब कुछ है। यह मेरी मातृभूमि है। भारत मेरा देश है। यहीं पर मुझे एक फिल्म स्टार के रूप में पिछले पांच दशकों में अपने लाखों प्रशंसकों से प्यार और स्नेह मिला है।” ― Dilip Kumar

Dilip Kumar Quotes

“यदि आप प्रसिद्धि को आप पर हावी होने देते हैं, तो आप एक उपद्रव, एक सार्वजनिक उपद्रव, एक दोस्त के रूप में एक उपद्रव, परिवार के एक सदस्य के रूप में, अपने लिए एक उपद्रव बन जाते हैं।” ― Dilip Kumar

Dilip Kumar Quotes In Hindi

“यहां तक ​​​​कि अगर अलग-अलग चरित्रों में खुद को स्कूल करने का अवसर था – ऐसे चरित्र जिनके अलग-अलग व्यक्तित्व हैं जो आपसे बिल्कुल अलग हो सकते हैं, तो आपको दूसरे व्यक्तित्व पर जाने में सक्षम होने के लिए अपने स्वयं के व्यक्तित्व को पूरी तरह से तलाक देना होगा।” ― Dilip Kumar

Best Quotes of Dilip Kumar

“अपने फिल्मी करियर के दौरान मुझे भारतीय सिनेप्रेमियों का प्यार और स्नेह मिला है। मुझे उनसे बिना शर्त प्यार मिला है।” ― Dilip Kumar

Quotes Of Dilip Kumar

“मैं असली दिलीप कुमार को जानता हूं और उनके साथ रहता हूं। वह एक साधारण आदमी है, मेहनती है, जो समय से बच गया है।” ― Dilip Kumar

Latest Dilip Kumar Quotes In Hindi

“एक फिल्म अभिनेता बनना एक चुने हुए पाठ्यक्रम की तुलना में कहानी का एक मोड़ था क्योंकि मैंने यह सोचने की हिम्मत नहीं की कि मैं कभी अभिनेता बन सकता हूं। जब हम कॉलेज में अपनी स्पोर्ट्स मीट में ट्राफियां प्राप्त करने वाले थे तो मैं एक मंच पर चलकर भी ‘धन्यवाद’ नहीं कह सका।” ― Dilip Kumar

Dilip Kumar Best Quotes

“हर दिन एक नयी शुरुआत होती हैं। हर दिन खुद को बेहतर और बेहतर साबित करने, कुछ अच्छा करने और खुद को काबिल साबित करने का मौका देता है।” ― Dilip Kumar

Dilip Kumar Hindi Quotes on Bollywood

“जीवन में हम जिन चीजों की इच्छा रखते हैं उनमें से ज्यादातर चीजें महंगी होती हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि जो चीजें हमें वास्तव में संतुष्ट करती हैं वे बिल्कुल मुफ्त हैं: प्यार, खुशी और हंसी।” ― Dilip Kumar

Dilip Kumar Hindi Quotes on Bollywood

Dilip Kumar Dialogues in Hindi

“कौन कमबख्त है जो बर्दाश्त करने के लिए पीता है, मैं तो पीता हूं कि बस सांस ले सकूं।” – देवदास

Dilip Kumar Dialogue

“जब अमीर का दिल खराब होता हैं ना, तो गरीब का दिमाग खराब होता हैं।” – नया दौर

Dilip Kumar Dialogue Devdas

“प्यार देवताओं का वरदान हैं जो केवल भाग्यशालियों को मिलता हैं।” – बैराग

Dilip Kumar Dialogue Devdas

“जो लोग सच्चाई की तरफदारी की कसम कहते हैं, ज़िन्दगी उनके बड़े कठिन इम्तिहान लेती है।” – शक्ति

Dilip Kumar Dialogue

“पैदा हुए बच्चे पर जायज़ नाजायज़ की छाप नहीं होती, औलाद सिर्फ औलाद होती है।” – किला

Hindi Dilip Kumar Dialogue

“हालात, किस्मतें, इंसान, ज़िन्दगी। वक़्त के साथ साथ सब बदल जाता है।” – मशाल

Best Dialogue Of Dilip Kumar

“जिसके दिल में दगा आ जाती है ना, उसके दिल में दया कभी नहीं आती।” – नया दौर

Dilip Kumar Sahab Dialogue

“ये खून के रिश्ते हैं, इंसान ना इन्हे बनता है, ना ही इन्हे तोड़ सकता है।” – किला

Best Hindi Dialogue Dilip Kumar

“मोहब्बत जो डरती है वो मोहब्बत नहीं..अय्याशी है गुनाह है।” – मुगल-ए-आजम

Devdas Dilip Kumar Dialogue

“हक़ हमेशा सर झुकाके नहीं, सर उठाके माँगा जाता है।” – सौदागर

Saudagar Dilip Kumar Dialogue

“कुल्हाड़ी में लकड़ी का दस्ता ना होता, तो लकड़ी के काटने का रास्ता ना होता।” – क्रांति

Dilip Kumar Dialogue Devdas

“बड़ा आदमी अगर बनना हो तो छोटी हरकतें मत करना।” – विधाता

Dilip Kumar Dialogue Bairag

“हक़ हमेशा सर झुकाके नहीं, सर उठाके माँगा जाता है।Dilip Kumar (सौदागर)

Dilip Kumar Dialogues Images Hindi

निष्कर्ष:-

दिलीप कुमार साहब को अपने दौर का सबसे बेहतरीन अभिनेता माना जाता है, त्रासद भूमिकाओं के लिए मशहूर होने के कारण उन्हे ‘ट्रेजडी किंग’ भी कहा जाता था। देश में पहला फिल्मफेयर अवॉर्ड पाने वाले भी दिलीप साहब थे, उन्हें अभिनय की संस्था कहा जाता था, जब बड़े पर्दे पर वह अपने संवाद बोलते थे तो उनके हाव-भाव और संजीदगी को देख लोग सबकुछ भूल जाते थे। चूँकि दिलीप कुमार का सांस लेने में तकलीफ के चलते, 98 साल की उम्र में 7 जुलाई 2021 को सुबह निधन हो गया, आप हमेशा अपने जीवंत अभिनय और बेहतरीन कलाकारी के लिए आप हमारे दिलो में और हमारी यादो में हमेशा रहेंगे, हमें पूरी उम्मीद है की आपको दिवंगत दिलीप कुमार साहब पर पर ये आर्टिकल Dilip Kumar Best Quotes and Dilip Kumar Dialogue अवश्य ही पसंद आया है,

इसी के के साथ यहां तक जुड़े रहने के लिए आप सभी का धन्यवाद। दिलीप साहब से सीखे हुए सीख आपको अच्छे लगे हो तो इस आर्टिकल को शेयर करें।\

 

अन्य पढ़ें:–

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Hostinger

Advertisement