Connect with us

Jivani

Sundar Pichai’s Biography in Hindi: सुंदर पिचाई का जीवन परिचय हिंदी में..!

Sundar Pichai Biography in Hindi

आज हम इस पोस्ट में भारत के एक ऐसे व्यक्ति Sundar Pichai Biography in Hindi के बारे में पड़ेंगे जिसने अपनी इंटेलिजेंसी, मेहनत और लगन से दुनिया में अपना नाम बनाया और भारत का नाम रोशन किया। दोस्तों हम बात कर रहे हैं Google के CEO Sundar Pichai के बारे में आइए जानते हैं उनकी सफलता की कहानी।

Sundar Pichai Biography

Sundar Pichai का वास्तविक नाम सुंदर राजन पिचाई है। Sundar Pichai का जन्म 12 July 1972 को तमिलनाडु के एक छोटे से गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम रघुनाथ पिचाई और उनकी माता का नाम लक्ष्मी है। Sundar Pichai के पिता रघुनाथ पिचाई एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे और अपने पिता को देखकर Sundar Pichai ने भी Technology में जुड़ने की प्रेरणा ली।

जब सुंदर पिचाई 12 साल के थे तो उनके पिता घर में एक लैंड लाइन फोन लेकर आए थे। Sundar Pichai को बचपन से ही नंबरों से बहुत प्यार था। वह गणित में बहुत ही होशियार थे। Sundar Pichai ने वह लैंडलाइन फोन के डायल किए गए सभी नंबरों को आसानी से याद कर के रखा था और आज भी वह नंबरों के पूछे जाने पर वह नंबरों को बता देते हैं। Sundar Pichai पढ़ाई में तो अच्छे थे ही और साथ ही साथ सुंदर पिचाई को बचपन से ही क्रिकेट में भी बहुत रूचि थी और स्कूल के दिनों में अपने स्कूल के क्रिकेट कैप्टन भी थे।

Sundar Pichai की शिक्षा

Sundar Pichai ने जवाहर विद्यालय में अपनी 10 की परीक्षा पास की फिर चेन्नई के वाना वाडी स्कूल में उन्होंने 12 वीं की परीक्षा भी पास की। उसके पश्चात Sundar Pichai ने IIT खड़कपुर से अपनी इंजीनियरिंग की परीक्षा भी पास की Sundar Pichai ने अपने लगन और मेहनत के बल पर हर जगह टॉप किया Sundar Pichai को IIT में रजत पदक से भी सम्मानित किया गया Sundar Pichai को भारत सरकार ने Scholarships दिया Scholarships से Sundar Pichai ने अपना दाखिला Stanford California में करा लिया। Sundar Pichai ने भौतिक विज्ञान में Master’s की Degree पूरी की आखिर में MBA की पढ़ाई के लिए वह Pennsylvania चले गए।

आर्थिक तंगी का दौर

आर्थिक तंगी में सुंदर पिचाई 1995 में स्टैनफोर्ड में बतौर पेइंग गेस्ट रहते थे। पैसे बचाने के लिए उन्होंने पुरानी चीजें इस्तेमाल कीं, लेकिन पढ़ाई से समझौता नहीं किया। वे पीएचडी करना चाहते थे लेकिन परिस्थितियां ऐसी बनीं कि उन्हें बतौर प्रोडक्ट मैनेजर अप्लायड मटीरियल्स इंक में नौकरी करनी पड़ी। प्रसिद्ध कंपनी मैक्किंसे में बतौर कंसल्टेंट काम करने तक भी उनकी कोई पहचान नहीं थी।

1 अप्रैल 2004 को वे गूगल में आए। सुंदर का पहला प्रोजेक्ट प्रोडक्ट मैनेजमेंट और इनोवेशन शाखा में गूगल के सर्च टूलबार को बेहतर बनाकर दूसरे ब्रॉउजर के ट्रैफिक को गूगल पर लाना था। इसी दौरान उन्होंने सुझाव दिया कि गूगल को अपना ब्राउजर लांच करना चाहिए।

Google में Sundar Pichai कैसे जुड़े

Sundar Pichai गूगल में जुड़ने से पहले McKinsey & company and Apply material में काम करते थे। Sundar Pichai 2004 में पहली बार Google से जुड़े फिर शुरू – शुरू में उन्होंने एक छोटे से ग्रुप के साथ Google search toolbar बार में काम किया। तभी Google में काम करते हुए Sundar Pichai के मन में एक नया आइडिया आया और वह था खुद का Internet Browser बनाने का।

उस समय Sundar Pichai ने Google के CEO से एक Google का Internet Browser बनाने की बात कही फिर Google के SEO ने कुछ समय वह बात को सोचा फिर इसे बहुत महंगा प्रोजेक्ट कह कर इनकार कर दिया लेकिन Sundar Pichai ने हार नहीं मानी और Google के अन्य Partners के साथ मिलकर एक Google के लिए Internet Browser बनाने का फैसला किया। परिणाम स्वरूप 2008 में Google ने अपना खुद का Internet Browser लॉन्च किया जिसका नाम Google Chrome Browser रखा गया। आज के समय में Google Chrome दुनिया का सबसे ज्यादा Use किया जाने वाला Internet Browser है।

Sundar Pichai कैसे बने Google के CEO

Sundar Pichai ने Google Chrome को बनाने के लिए कड़ी मेहनत की इसे Google ने देख लिया और यही Sundar Pichai के Life के लिए Turning point था। Sundar Pichai को अब Google के सभी Products का Chief Executive बना दिया गया और देखते-देखते Sundar Pichai को Google के CEO बनने की दौड़ में शामिल कर लिया गया। Sundar Pichai को Google से पहले Microsoft और Twitter में भी जाने का मौका मिला था।

लेकिन उनकी लगन और मेहनत को देखते हुए Sundar Pichai को Google ने बहुत सारे पैसे देकर अपने तरफ कर लिया और आखिरकार 10 अगस्त 2015 को Sundar Pichai को दुनिया के सबसे बड़े कंपनी का CEO बनाया गया जिसका नाम Google था। इतनी बड़ी सफलता के पीछे सुंदर पिचाई के वाइफ का भी बहुत बड़ा हाथ है। Sundar Pichai को उनकी वाइफ ने Microsoft और Twitter में जाने से मना किया था और परिणाम स्वरूप कुछ समय बाद Google के CEO बने Sundar Pichai.

Quotes of Sundar Pichai

“हम सभी उन कार्यो को करने पर फोकस करते है जिसे अरबो लोग प्रतिदिन करते है।” 

Sundar Pichai Biography in Hindi

“अगर आपको जीवन में कुछ बड़ा करना है तो अपनी सीमा से निकलकर आगे बढ़िए।”

Sundar Pichai Biography in Hindi

“दोस्तों जीवन में प्रतिक्रिया देने के बजाय जवाब देना सीखे।”

Sundar Pichai Biography in Hindi

“मेरे मन में हर बार यही बात चोट करती है कि भारतीय लोगो कि आकांक्षाये बहुत ही अनूठी है और अपने आप में अद्वितीय भी है भले ही उनका उस पृष्ठ्भूमि से जुड़ाव नहीं होता है फिर भी वे बहुत ही अपेक्षा रखने वाले होते है।”

“अपने सपने के लिए जियो और अपने दिल की सुनो, उन सभी कार्यो को अपना उदेश्य बनाओ जो तुम्हे उसको करने के लिए उत्तेजित करता है।”

“जितना मैंने देखा है एंड्राइड सबसे खुली प्रणालियों में से एक है एंड्राइड को जो महान बनाता है वह है इसका किजाइन जो जमीनी स्तर से लेकर एक बहुत शक्तिशाली तरीके से अनुकूलित किया जा सकता है।”

“जब आप एक प्लेटफार्म को एक बड़े पैमाने पर चलाते है, आपको यह सुनिच्शित करना होगा कि यह सही मायने में मुक्त हो, इस तरह सिर्फ आप ही अच्छा नहीं करते, दूसरे लोग भी करते है।”

“यदि आप एक सच्चे लीडर हो तो आपको सिर्फ अपनी सफलता देखने के बजाय दुसरो कि सफलता पर भी ध्यान देना पड़ेगा।”

“हो सकता है की आप असफल हो रहे है लेकिन यह ठीक है क्योंकि आप सही प्रयास कर रहे है जिनसे आप बहुत कुछ सीखते है।”

“मैं गुप्त परियोजना पर काम करता हु जो हर दिन मेरे घंटे में घंटे और बढ़ा देता है जो की यह एक टाइम मशीन जैसा है।”

“गूगल के बारे में सार यह है कि लोगों को सुचना मिलती रहे।”

Sundar Pichai Biography in Hindi

Final Words:-

दोस्तों आप लोगो को मेरा यह पोस्ट सुंदर पिचाई की जीवनी हिंदी में कैसा लगा। अगर आप लोगो यह पोस्ट पढ़कर अच्छा लगा हो तो आप लोग इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको मेरा पोस्ट कैसा लगा।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement