Connect with us

People

Sadhguru Quotes In Hindi: सद्गुरु जग्गी वासुदेव के अनमोल विचार…!

Sadhguru Quotes In Hindi

Sadhguru Quotes In Hindi:-आप अपने भीतर छोटी छोटी चीज़ के बारे में इतना संघर्ष पैदा कर लेते है कि कहीं आपसे कुछ गलत न हो जाय। आप यह 100% नहीं जानते कि आप जो भी कर रहे है वह सही होगा। आपके लिए बस यह महत्वपूर्ण होना चाहिए जो भी आप कुछ कर रहे है वह आपको और आपके आसपास लोगो को खुशिया देगा। उस काम में अपनी पूरी ऊर्जा लगा दीजिये – सद्गुरु जग्गी वासुदेव

Sadhguru HD Image

Name Sadhguru Jaggi Vasudev / सद्गुरु जग्गी वासुदेव
Born 3 September 1957 (age 58),   Mysore, Karnataka
Occupation Spiritual Leader, Yog Guru, Writer
Nationality Indian
Achievement Founded ISHA Foundation which is known for its Yoga programs and philanthropic activities.

कौन है सद्गुरु? – Who is Sadhguru?

“सद्गुरु” का असली नाम जग्गी वासुदेव है। उनका जन्म कर्नाटक के मैसूर शहर में 3 सितंबर 1957 को हुआ था। वो मशहूर योग शिक्षक के साथ ही लेखक के रूप में भी दुनिया भर में मशहूर है। उनके समाज सेवा के कामों के लिए उन्हें भारत सरकार द्वारा द्वितीय सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार “पद्म भूषण” से भी सम्मानित किया जा चुका हैं। अपने सेवा कार्यों और योग के ज्ञान के चलते सद्गुरु को दुनिया भर में काफी सम्मान दिया जाता है। उन्होंने “ISHA FOUNDATION” नाम की एक संस्था की स्थापना भी की है जिसका उद्देश्य दुनिया भर में योग का प्रचार प्रसार करना तथा असहायों की सेवा करना है। सद्गुरु द्वारा स्थापित की गयी इस संस्था की शाखा दुनिया भर में मौजूद है।

सद्गुरु का जीवन – Sadhguru’s life

सद्गुरु यानी कि जग्गी वासुदेव जी का जन्म 3 सितंबर 1957 को मैसूर में हुआ था। वो अपने कुल 4 भाई बहनों में सबसे छोटे थे। बचपन से ही सद्गुरु जी की रुचि अध्यात्म की तऱफ बहुत अधिक थी। मैसूर से ही अपनी प्रारंभिक पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ मैसूर से साल 1973 में अंग्रेजी में बैचलर की डिग्री हासिल की। इसके बाद उन्होंने अपने पिता के व्यापार को बढ़ाना शुरू कर दिया।

लेकिन साल 1982 में मात्र 25 वर्ष की आयु में उनका अध्यात्म की तऱफ काफी ज्यादा झुकाव हो गया। 6 हफ्ते तक वो मैसूर की पहाड़ियों की चोटी में बैठकर ध्यान करते रहे। इसके बाद सद्गुरु अपने व्यापार को अपने मित्र के हवाले कर के खुद अकेले ही आंतरिक शांति की खोज पर निकल पड़े।  1 साल तक पूरे देश मे भटकते रहने के बाद उन्हें आंतरिक शांति की प्राप्ति हुई। फिर वो वापस मैसूर लौटकर लोगों को योग का ज्ञान देने लग गए। धीरे धीरे वो कर्नाटक से लेकर हैदराबाद तक के लोगों को योग का प्रशिक्षण देने लग गए।

सद्गुरु ने विजयकुमारी से शादी भी की थी। हालांकि उनकी पत्नी विजयकुमारी की मृत्यु 23 दिसम्बर 1997 को हो गयी थी। सद्गुरु ने उस वक्त बताया था कि उनकी पत्नी ने “महासमाधि” ली है। उनके मरने के 9 महीने पहले ही सद्गुरु को उनके मौत की ख़बर लग गयी थी। इस विवाह से सद्गुरु की एक बेटी भी हुई जिसका नाम राधे जग्गी है। राधे एक प्रशिक्षित भरतनाट्यम डांसर है।

ईशा फाउंडेशन – ISHA FOUNDATION

 सद्गुरु ने अपने योग के आश्रम के निर्माण के बाद योग को और वृहद रूप में ले जाने के लिए उन्होंने सैलाब 1994 में Isha Yoga Centra की स्थापना की। इस योग सेन्टर में उन्होंने साल 1996 में भारतीय हॉकी टीम को भी योग प्रशिक्षण दिया था। साल 1997 में उन्होंने अमेरिका में भी जाकर योग प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया था। ISHA FOUNDATION के अंतर्गत सद्गुरु द्वारा स्कूल का भी संचालन किया जाता है। इस स्कूल में लगभग 3 हज़ार बच्चों को आधुनिक शिक्षा दी जाती है। इसके साथ ही सद्गुरु हाज़रो गांवों के लोगों की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए कार्यक्रम का संचालन करते हैं।

सद्गुरु एक सच्चे योग शिक्षक और अध्यात्म ऋषि के रूप में जाने जाते हैं। दुनिया भर में उनके लाखो शिष्य हैं। उनके योग शिविर में सामान्य नागरिक से लेकर विश्व की सर्वशक्तिशाली संस्थाओं में बैठे लोग तक भाग लेते हैं। सद्गुरु योग के जरिये जीवन की हर समस्या को हल करने का दावा करते हैं। उनके योग प्रशिक्षण का लाभ लाखों लोग उठा रहे हैं।

योग गुरु सद्गुरु ने अपने आध्यत्मिक जीवन के अनुभव से बहुत सारे उपदेश और ज्ञान की बातें भी बताई हैं। हालाँकि सद्गुरु सिर्फ तमिल और अंग्रेजी भाषा ही बोलते हैं लेकिन फिर भी उनके द्वारा कहीं गयी बातों का कई सारी भाषाओ में अनुवाद किया गया है। ताकि अधिक से अधिक लोग सद्गुरु की अमृत वाणी का लाभ उठा सके। सद्गुरु के द्वारा कही गयी बातों पर अमल लाते हुए और उनके सिद्धांतो पर जीवन जीते हुए लाखों लोग प्रभावित होते है।

ऐसे में आज हम आपके लिए सद्गुरु द्वारा बताये गए जीवन के सार और उनकी अमृतवाणी को हिंदी में लेकर आये हैं। हम आपके लिए बेहद खास Sadguru Quotes In Hindi लेकर आये हुए हैं। आप इन Sadguru Quotes Hindi की मदद से ना सिर्फ़ अपने जीवन मे चल रही समस्याओं पर लगाम लगा सकते हैं बल्कि आप इसकी मदद से जीवन मे खुशी का संचार भी कर सकते है।

Sadhguru Quotes In Hindi

जीवन आपके बाहर नहीं है। आप जीवन हैं।”

Sadhguru Quotes Hindi Image

ध्यान कोई कार्य नहीं, एक गुण है।”

Sadhguru Quotes Hindi Images

आपकी ज्यादातर इच्छाएं वास्तव में आपकी नहीं होती, आप बस उन्हें अपने सामाजिक परिवेश से उठा लेते है।”

Sadhguru Quote Hindi Images

आध्यात्मिक का मतलब है क्रमिक विकास की प्रक्रिया को तेजी से बढ़ाना।”

Sadhguru Hindi Quotes Images

एक बार जब आपका मन पूर्ण रूप से स्थिर हो जाता है तब आपकी बुद्धि मानवीय सीमाओं को पार कर जाती है।”

Sadhguru Hindi Quote Image

लोग किताबों को पवित्र कहते है लेकिन उन्हें अभी भी ये समझना है कि जीवन पवित्र है।”

Sadhguru Hindi Quotes Photo

एक गुरु कोई ऐसा नहीं होता जो आपके लिए मशाल पकड़ता है बल्कि वो खुद मशाल होता है।”

Sadhguru Hindi Quotes Photos

भौतिक अस्तित्व का बस एक छोटा सा पहलू है, इस ब्रह्मांड में 1% भी भौतिक नहीं है – बाक़ी गैर -भौतिक है।”

Sadhguru Hindi Quotes Image

अविश्वसनीय चीजें आसानी से की जा सकती हैं यदि हम उन्हें करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

Sadhguru Hindi Quotes Photos

एक बार जब आपका मन पूर्ण रूप से स्थिर हो जाता है तब आपकी बुद्धि मानवीय सीमाओं को पार कर जाती है।”

Sadhguru Hindi Quotes Image

हर चीज को ऐसे देखना जैसी कि वो है, आपको जीवन को सहजता से जीने की शक्ति और क्षमता देता है।”

Sadhguru Image Hindi Quotes

“मन को केवल कुछ चीजें ही याद रहती हैं। शरीर को सबकुछ याद रहता है। जो सूचना ये रखता है वो अस्तित्व के प्रारम्भ तक जाती हैं।”

“ध्यान करने से जब आपको यह अहसास होता है कि आपकी कई सारी सीमाएं हैं और वो सब स्वयं आपकी बनाई हुई हैं, तभी आपके अंदर उन्हे तोड़ने की चाहत पैदा होगी।”

“एक इंसान एक बीज की तरह है। या तो आप इसे वैसे रख सकते हैं जैसा वो है, या आप इसे फूलों और फलों से लदे एक अद्भुत पेड़ के रूप में विकसित कर सकते हैं।”

“दूसरों से आशाएं होने का मतलब है कि आप उनकी ज़िन्दगी ठीक करने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसा न करें। अपना खुद का जीवन ठीक करें – यही आज़ादी है।”

“चाहे वह आपका शरीर हो, आपका मन हो, या फिर आपकी जीवन ऊर्जा हो – आप इनका जितना ज्यादा इस्तेमाल करते हैं, ये उतने ही बेहतर होते जाते हैं।”

“ध्यान का अर्थ यह नहीं है कि आपको अपने जीवन में हर क्षण मुस्कुराते रहना होगा, बल्कि यह सीखना है कि आपकी हड्डियां भी मुस्कुराने लगें।

“जब तक यहां आपका अस्तित्व केवल शरीर और मन के रूप में है, पीड़ा तो होगी ही, इससे बचा नहीं जा सकता। ध्यान का अर्थ है आपने शरीर और मन की सीमाओं से परे जाना।”

“डर, गुस्सा, दुख, कुंठा, अवसाद, और हताशा सभी एक ऐसे मन की उपज हैं, जिसका नियंत्रण आपने अपने हाथ में नहीं लिया है।”

“हर चीज जो मैं जानता हूं, जो मेरे गुरु जानते थे, और जो संपूर्ण आध्यात्मिक परंपरा जानती थी, वह ध्‍यानलिंग में ऊर्जा के रूप में मौजूद है।”

“आप अपने जीवन का अनुभव सिर्फ तभी गहरा कर सकते हैं, जब आप, किसी चीज से खुद की पहचान बनाए बिना, हर चीज के प्रति पूरी तरह खुले हों।”

“अच्छे’ लोगों ने दुनिया को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। हमें ‘अच्छे’ लोगों की जरूरत नहीं है। हमें खुशहाल और समझदार लोगों की जरूरत है।”

 

ध्यान का अर्थ है, अपने भीतर नए आयाम जागृत करना।”

 

आत्मज्ञान में कोई सुख नहीं होता, कोई पीड़ा नहीं होती – बस होता है एक बेनाम आनंद, परमानंद।”

 

आत्मज्ञान का बीज हर प्राणी में मौजूद है। आत्मज्ञान कोई ऐसी चीज नहीं है जो बाहर से आती है। आत्मज्ञान सिर्फ एक बोध है।”

 

कितना अच्छा होता अगर ये दुनिया छोटे बच्चों द्वारा चलायी जाती, क्योंकि वे किसी और की तुलना में जीवन के ज्यादा करीब होते हैं।”

 

असल में ध्यान का अर्थ है, अनुभव के स्तर पर यह एहसास होना कि आप कोई अलग इकाई नहीं हैं – आप एक ब्रह्मांड हैं।”

 

योग सिर्फ शारीरिक व्यायाम नही  है – Yoga is not just Physical Exercise

योग कोई सामान्य शारीरिक व्यायाम नही है। बल्कि ये एक ऐसी क्रिया है जिसकी मदद से व्यक्ति को आंतरिक शांति की प्राप्ति होती है। योग की मदद से व्यक्ति का संगम अपनी आत्मा से होता है। ये ना सिर्फ आपको शारीरिक स्वस्थता का वरदान देती है बल्कि आंतरिक मन को भी स्वस्थ बनाने में आपकी मदद करती है। सद्गुरु इसी आंतरिक शांति से लोगों का संगम करवाने के लिये जाने जाते हैं। इसिलिए सद्गुरु पूरी दुनिया मे मशहूर है। उनके शरण मे जाने वाले लोग मोहमाया से दूर होकर शांति की प्राप्ति के मार्ग पर बढ़ते हैं।

ऐसे में अगर आप जीवन को बेहतर तरीके से जीना चाहते हैं, तो फिर आप सद्गुरु के इन बातों पर अमल करना शुरू कर दीजिए।

Final Words:-

आशा करते हैं कि आपको यहाँ पर दिए गए Sadhguru Quotes In Hindi जरूर पसन्द आये होंगे। आप इन Sadhguru In Hindi Quotes को खुद पढ़िए और अपने जीवन को इसी के अनुरूप ढालने की कोशिश कीजिये। इसके साथ ही आप इन Qoutes को अपने दोस्तों तथा जानने वाले लोगों के साथ शेयर करना बिल्कुल मत भूलिए। ताकि उन लोगों को भी Sadhguru Quotes In Hindi का फायदा मिल सके।

इन्हे भी जरूर पढ़े:-

  1. Acharya Prashant Hindi: आचार्य प्रशांत के विचार
  2. Kabir Das in Hindi: कबीरदास का जीवन परिचय…!
  3. Swami Vivekananda Quotes in Hindi: स्वामी विवेकानंद जी के महान विचार
1 Comment

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *