Connect with us

जीवन परिचय

Nick Vujicic Biography In Hindi : महामानव निक वुजिसिक का प्रेरणादायी जीवन परिचय

Nick Vujicic Biography In Hindi

क्या आप जानते है कि, टेट्रा अमेलिया सिंड्रोम से ग्रसित महामानव Nick Vujicic Kaun Hai? या फिर Nick Vujicic biodata के बारे में, जानते हैं? हमें, आशा है कि, जीवन के इस जुझारु खिलाड़ी के बारे में, बहुत कम लोगो को पता होगा इसलिए हम, अपने इस लेख में, आपको Nick Vujicic Biography In Hindi : महामानव निक वुजिसिक का प्रेरणादायी जीवन परिचय के बारे में, बतायेगें।

जीवन के कई पड़ाव होते है और मुश्किलें उसका एक अभिन्न हिस्सा होती है लेकिन ये छोटी-छोटी समस्यायें ही हमें, जीवन के प्रति उदासीन बना देती है जबकि, बिना हाथ और पैरो वाला सदी का महामानव अर्थात् Nick Vujicic ने, ना केवल अपनी समस्याओं पर जीत दर्ज की बल्कि सफलता की असीम ऊंचाई पर पहुंच कर आज करोड़ो लोगो के लिए प्रेरणास्रोत बने हुए हैं।

हमारे कई युवा पाठको ने, भारी मात्रा मे, Nick Vujicic information की मांग कर रहे थे और उनकी इस मांग का सम्मान करते हुए हमने अपने इस लेख को निक वुजिसिक के जीवन परिचय अर्थात् Nick Vujicic Biography In Hindiनिक वुजिसिक बायोग्राफी को समर्पित कर रहे हैं और हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि, आपको जीवन पर विजये पाने वाले इस महामानव के सम्पूर्ण व्यक्तित्व से रु ब रु करवायें।

Nick Vujicic Kaun Hai? / निक वुजिसिक कौन है?

बिना हाथ – पैरो वाला जीवन, एक भयानक व खौफनाक कल्पना है लेकिन निक वुजिसिक वो महामानव हैं जो कि, ना केवल इस खौफनाक वास्तविकता के साथ जन्में बल्कि इस सच्चाई को स्वीकार करके आज सफलता की मिशाल बनकर उभरे हैं।

निक ने, अपनी खौफनाक वास्तविकता को ही दूसरो के लिए प्रोत्साहन की खुराक के तौर पर प्रस्तुत किया जिसका नतीजा ये हुआ कि, ना केवल 19 साल की अल्पायु में, ही उन्होंने अपना पहला भाषण दिया बल्कि साथ ही साथ वर्तमान समय में, पूरे विश्व का भ्रमण कर विश्व वासियों को प्रेरित व प्रोत्साहित कर चुके हैं।

जीवन पर विजय पाने वाले इस जुझारु व्यक्तिव अर्थात् Nick Vujicic के जीवन पर आधारित अपने इस लेख में हम, आपके समक्ष Nick Vujicic Biography In Hindi में, विस्तार से प्रस्तुत करेंगे ताकि ना केवल आप इस महामानव से प्रेरणा प्राप्त कर सकें बल्कि साथ ही साथ जीवन को ऊर्जावान भी बना सकें।

Nick Vujicic Biography In Hindi : महामानव निक वुजिसिक का प्रेरणादायी जीवन परिचय

Nick Vujicic IMAGES

निक वुजिसिक नामक इस महामानव की पूरी जीवनी को हम, आपके समझ कुछ बिंदुओं की मदद से प्रस्तुत करेंगे जो कि, इस प्रकार से हैं –

1. निक वुजिसिक का पूरा नाम क्या है?

हम, अपने सभी पाठकों व युवाओं को बताना चाहते है कि, जीवन पर सफलता पाने वाले Nick Vujicic का पूरा नाम निकोलस वुजिसिक हैं जिन्होंने जीवन के प्रति ना केवल अपने नजरिये को बदला बल्कि तमाम नकारात्मकताओं के बावजूद जीवन को खुलकर जिया और सफलता प्राप्त की।

2. Nick Vujicic का जन्म कब, कहां और किसके यहां हुआ था?

बिना हाथ – पैरो वाले इस महामानव Nick Vujicic का जन्म 4 दिसम्बर, 1982 को ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न के स्थायी निवासी दुशांका वुजिसिक ( माता – पेशे से नर्श ) व बोरिस्लाव वुजिसिक ( पिता – पेशे से अकाउण्टेंट ) नामक दम्पति के यहां हुआ था जो कि, मूलत यूगोस्लाविया, सर्बिया के थे और पलायन करके ऑस्ट्रेलिया आये थे।

3. Nick Vujicic को जन्म से ही कौन सी बीमारी थी?

जैसा कि, हमने आपको बताया कि, Nick Vujicic का जन्म ही बिना हाथों व पैरो के हुआ था जिसकी मूल वजह ये थी कि, उन्हें जन्म से ही टेट्रा अमेलिया सिंड्रोम ( हाथ व पैरों का अभाव ) नामक बीमारी थी।

4. निक वुजिसिक को उनके माता – पिता ने, कैसे अपनाया?

हम, आपको बताना चाहते है कि, जब Nick Vujicic का जन्म हुआ था और नर्स ने, बच्चे को उनकी माता के सामने रखा था तो बच्चे को देखते ही उन्हें लगा कि, उनके लिये सब कुछ खत्म हो चुका है और इसी वजह से उन्होंने बच्चे को नहीं उठाया था।

लेकिन कुछ समय बाद उनके माता व पिता ने, प्रकृति की इस सच्चाई के साथ समझौता किया और आखिरकार Nick Vujicic को अपने व अपने जीवन में स्वीकार कर लिया।

5. निक वुजिसिक किसे Chicken Drumstick कहते थे?

हम, अपने सभी पाठको को बताना चाहते है कि, Nick Vujicic के जन्म से ही पैर थे लेकिन वे बेहद छोटे और साथ ही साथ विकृत थे और उनमें से एक पैर का आकार कुछ अजीब ढंग का था जिसकी वजह से Nick Vujicic उसे Chicken Drumstick कहते थे।

6. निक वुजिसिक जीवन जी सकें इसके लिए क्या-क्या किया गया था?

वैसे तो इस सच्चाई के साथ जीवन जीना प्रकृति का सबसे बड़ा खिलवाड़ प्रतीत होता है लेकिन चिकित्सकों द्धारा कुछ कदम उठाये गये थे ताकि निक वुजिसिक अपनी कुछ मूलभुत गतिविधियों को कर सकें जैसे कि –

  • निक वुजिसिक पढ़ने के लिए किताबो के पेज पलट सकें इसके लिए पैर की आपस मे सटी हुई ऊंगलियों को अलग करने के लिए ऑपरेशन किया गया था ताकि व अपनी छोटी छोटी व संभव गतिविधियां कर सकें।

उपरोक्त सभी बिंदुओं की मदद से हमने आपको उनके जीवन को सरल बनाने के लिए कई चीजों के बारे में, बताया।

7. निक वुजिसिक अपनी पैर की ऊंगलियों का उपयोग किन चीज़ो के लिए करते थे?

निक वुजिसिक अपनी पैर की ऊंगालियों का प्रयोग कुछ विशेष गतिविधियों को करने के लिए करते थे जैसे कि –

  • किताबों के पेज पलटना,
  • मोबाइल फोन चलाना,
  • इलेक्ट्रिक व्हिलचेयर के साथ-साथ
  • कम्प्यूटर चलाना आदि।

उपरोक्त सभी क्रियायें निक वुजिसिक अपने पैर की ऊंगलियों से करते थे।

8. निक वुजिसिक का शैक्षणिक संघर्ष व आत्महत्या की कहानी क्या है?

अभी तक के विवरणो से आप समझ ही गये होंगे कि, निक वुजिसिक की शारीरिक विकृति कैसी थी और इसी वजह से उन्हें अपनी शिक्षा प्राप्ति के दौरान कई तरह की असहनीय समस्याओँ का सामना करना पड़ता था क्योंकि –

  • सभी बच्चे उनका मज़ाक उड़ाते थे,
  • वे कहीं भी आने – जाने में, अयोग्य थे,
  • मनोरंजन के लिए कोई गेम भी नहीं खेल पाते थे,
  • लोग उन्हें घूर – घूर कर देखा करते थे आदि

उपरोक्त सभी मुसीबतों का सामना निक वुजिसिक को बहुत ही कम उम्र में, करना पड़ा था जिसका परिणाम ये निकला की उन्होंने इस सभी समस्याओँ से हार मान ली और उम्र के उस नाजुक मोड़ ही पर उन्होंने आत्महत्या करने का फैसला कर लिया था।

निक वुजिसिक, आत्महत्या करने के लिए पानी से भरे टब में जाकर कूद गये थे लेकिन उन्हें किसी तरह से सुरक्षित बचा लिया गया। अन्त, इस प्रकार हम, कह सकते हैं कि, निक वुजिसिक का बचपन, शिक्षा और अन्य कुछ भी सुखद तो दूर बल्कि सामान्य भी नहीं रहा।

9. अखबार में, प्रकाशित एक लेख से कैसे बदल गया निक का जीवन?

  • जब निक ने, आत्महत्या की कोशिश की तब उनके माता – पिता खुद को बहुत लाचार महसूस कर रहे थे क्योंकि वे किसी भी तरह से अपने बच्चे की मदद नहीं कर सकते थे लेकिन एक दिन उनकी माता ने, समाचार पत्र में, छपे एक आर्टिकल को पढ़ा जो कि, मूलत एक विकलांग और उसकी सफलता की कहानी थी।
  • समाचार पत्र में, छपे इस आर्टिकल को उनकी माता ने, काट कर निक वुजिसिक को दिया पढ़ने के लिए। निक वुजिसिक ने, इस आर्टिकल में, पढ़ा कि, कैसे एक विकलांग व्यक्ति अपने जीवन और जीवन की समस्याओँ पर विजय प्राप्त करके सफलता अर्जित करता है और यहीं से निक वुजिसिका का जीवन के प्रति नजरियां बदल गया।
  • उन्हें अहसास हुआ कि, वे अकेले नहीं हैं जो इस समस्या से पीडित है बल्कि उनके जैसे और भी कई लोग हैं जो कि, ना केवल अपनी इस समस्या का समाधान खोज रहे हैं बल्कि जीवन में, सफलता भी प्राप्त कर रहे हैं और इसी अहसास के बाद निक ने, पीछे मुड़कर नहीं देखा और सभी नकारात्मकताओँ को समाप्त करते हुए खुद को जीवन के प्रति ऊर्जावान व आशावान बनाया।

उपरोक्त सभी बिंदुओ की मदद से हमने आपको निक वुजिसिक के जीवन में, आये बदलावो के बारे में, बताया।

10. निक ने, किस उम्र में, कौन सी डिग्री प्राप्त की?

जीवन में, सकारात्मक बनने के बाद निक वुजिसिक ने, सिर्फ 21 साल की उम्र मे ही क्वींसलैंड में, स्थित Griffith University से Bachelors Degree in Accounting and Financial Planning की डिग्री प्राप्त की और अपने जीवन की सफल यात्रा शुरु की।

11. निक अपने इस बदले हुए सकारात्मक जीवन का श्रेय किसे देते है?

निक ने, जिस तरह अपनी समस्याओँ का समाधान किया और अपने नकारात्मक जीवन को सकारात्मक बनाया उसका पूरा श्रेय निक, अपने माता – पिता और ईश्वर को देते है और साथ ही साथ उन सभी मित्रो, सहपाठियों, रिश्तेदारों व पड़ोसियों को भी श्रेय व धन्यवाद देते हैं जिन्होंने उन्हें प्रेरित और प्रोत्साहित किया जिसकी वजह से वे आज के सफल व सकारात्मक जीवन वाले इंसान बन पायें है।

12. निक के माता – पिता उन्हें आत्मनिर्भर क्यूं व कैसा बनाना चाहते थे?

निक के माता – पिता ने, ही सबसे पहले प्रकृति के इस खिलवाड़ के साथ समझौता किया था और ये फैसला भी कर लिया था कि, वे निक को आत्मनिर्भर बनायेगे ताकि निक अपने जीवन को अपनी शर्तो पर जी सकें ना कि, पूरे जीवन दूसरो की राह ताकते, मोहताज बना रहें।

इसलिए उनके माता – पिता ने उन्हें आत्मनिर्भर बनाने की जिद्द ठान ली जिसके लिए उन्होंनें निक को इन चीजों को सीखने के लिए प्रेरित व प्रोत्साहित किया –

  • निक कभी पानी में, डूब ना जाये और दुर्घटना के शिकार ना हो जाये इसलिए छोटी उम्र से ही उनके माता – पिता ने, उन्हें पानी मे, तैरना सीखाया,
  • उन्हें कम्प्यूटर की पूरी शिक्षा देने और की-बोर्ड पर लिखने व स्पीड में, टाइप करने के लिए सिर्फ 6 साल की उम्र में ही उन्हें पंजो की सहायता से टाईपिंग सिखाई,
  • निक पैंसिल व पेन पकड़ सकें इसके लिए उनके माता – पिता ने, एक विशेष प्लास्टिक से बनी वस्तु का निर्माण विशेषज्ञों से करवाया ताकि व पढ़ाई – लिखाई कर सकें आदि।

उपरोक्त गतिविधियों की शिक्षा देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाया गया ताकि वे किसी के मोहताज ना बनें बल्कि अपने जीवन को अपनी शर्तो पर जी सकें।

13. निक अपने पैरो के पंजो से क्या – क्या कर लेते है?

निक के माता – पिता ने, उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई चीज़ों का प्रशिक्षण दिया जिसके बाद उनके भीतर छुपी सकात्मक ऊर्जा का संचार हुआ और वे कई गतिविधियां करने लगें जैसे कि –

  • निक फुटबाल व गोल्फ खेल लेते है,
  • अच्छी तरह से पानी में, तैर लेते है,
  • पैर के पंजो से ड्रम बचाने के साथ ही साथ वे
  • मछली पकड़ना, चित्रकारी और स्काई डाईविंग भी कर लेते हैं आदि।

उपरोक्त गतिविधियां अब निक वुजिसिक खुद कर लेते है और अपने माता – पिता के सपने को पूरा करते हुए आज एक आत्मनिर्भर व सफल इंसान बन गये हैं।

14. निक की शादी कैसे, कब, किससे हुई व कितने बच्चे हुए?

निक वुजिसिक जो कि, 33 साल की उम्र में, ही एक सफल व जीवन बदलने वाले स्पीकर के तौर पर जाने जाते है 9 मार्च, 2002 को कैलिफोर्नियां गये थ और इसके बाद साल 2008 में टेक्सास में, उनकी पहचान कैनेई मियाहारा से हुई लेकिन उनकी ये पहचान जल्द ही मुहब्बत में, बदल गई।

जिसके बाद 12 फरवरी, 2012 को उन्होंने शादी करके अपने सुखद दाम्पत्य जीवन की शुरुआत जिसके फलस्वरुप उन्हें कुल 4 बच्चो की प्राप्ति हुई हैं जिनके नाम इस प्रकार से हैं – कियोशी जेम्स वुजिसिक ( 2013 ), डीजन लेवी वुजिसिक ( 2015 ), ऐली लॉरेल वुजिसिक ( 2047 ) और ऑलिविया मेल वुजिसिक ( 2017 ) आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओं की मदद से हमने अपने सभी युवाओं व पाठको को निक वुजिसिक के व्यक्तिगत जीवन की एक संतुलित तस्वीर प्रस्तुत की।

निक वुजिसिक का करियर कैसा रहा अर्थात् करियर परिचय कैसा है?

NICK VUJICIC PHOTO

निक वुजिसिक का करियर बेहद ऊर्जावान, सकारात्मक और प्रेरणादायी है जिसके आपके समक्ष हम, कुछ बिंदुओ की मदद से प्रस्तुत करना चाहते हैं जो कि, इस प्रकार से हैं –

  1. निक एक कुशल और प्रासांगिक प्रवक्ता थे और अपनी इसी वक्तव्य शैली को उन्होंने अपना करियर बनाया और मात्र 17 साल की आयु से ही वे चर्च में, प्रेरणादायी व्याख्यान देने लगे जिसके बाद एक समय ऐसा आया जब उनके वक्तव्य को सुनने के लिए 1 लाख से अधिक लोक जमा हो गये और बैठने की जगह भी नहीं बची थी,
  2. युवाओं, व्यस्कों व बच्चो को जीवन के प्रति ऊर्जावान और आत्मनिर्भर बनने की शिक्षा अपने वक्तव्यों से देने लगे जिससे उनके अनुयायियों की संख्या में, जबरदस्त वृद्धि हुई और साथ ही साथ उनकी लोकप्रियता भी जग – जाहिर हुई,
  3. निक वुजिसिक ने, विश्व के सभी चर्चो में, ईसा मसीह की शिक्षाओं का प्रचार – प्रसार किया और ईसा मसीह पर लोगो की आस्थाओं को स्थापित करने में, अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई,
  4. समाज और विश्व कल्याण के लिए निक ने, साल 2008 में Life Without Limbs नामक एक अन्तर्राष्ट्रीय गैर सरकारी संगठन अर्थात् NGO हैं जिसका मूल लक्ष्य समाज कल्याण के साथ – साथ विश्व कल्याण को स्थापित करना है,
  5. समाज और विश्व में, धर्मनिरपेक्षता को प्रेरित व प्रोत्साहित करने के लिए भाषायी कम्पनी के तौर पर Attitude at Altitude की स्थापना साल 2007 में की,
  6. साल 2008 निक वुजिसिक के लिए काफी महत्वपूर्ण रहा क्योंकि इस दौरान उन्हें टी.वी पर्दे पर आने का मौका मिला जिसक दौरान उन्होंने 20 / 20 नामक एक टी.वी धारावाहिक के लिए साक्षात्कार भी किया,
  7. निक ने, लघु फिल्मों भी अभिनय करके लोगो को प्रेरित और प्रोत्साहित किया जिसके तहत साल 2010 में, निक वुजिसिक ने, Math Fest Independent Film Festival में विल के अभिनय के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार से सम्मानित किया गया,
  8. निक ने एक लघु फिल्म The Butterfly Circus में भी उल्लेखनीय प्रदर्शन किया,
  9. साल 2011 में, निक वुजिसिक ने, Attitude is Attitude कम्पनी की स्थापना की जिसे आमतौर पर कुछ और कहा जाता है और साथ ही साथ
  10. निक वुजिसिक अब तक कुल 7 किताबें लिख चुके हैं जिनमें उनकी विश्व प्रसिद्ध कृति के तौर पर साल 2010 के तौर पर Life Without Limits : Inspiration for a Ridiculous Good Life मानी जाती है जो कि, रैमंड हाउस द्धारा प्रकाशित की गई थी। उनकी लिखी अन्य किताबें इस प्रकार से हैं –
  • साल 2010 में, सीमा के बीना जीवन – एक अच्छे जीवन की प्रेरणा,
  • साल 2012 में आई बिना सीमाओं के आपका जीवन,
  • साल 2013 में, आई असीम व अजेय,
  • साल 2014 में आई The Power of Unstoppable Faith,
  • साल 2015 में आई, Stand Strong,
  • साल 2016 की Love Without Limits,
  • 13 फरवरी, 2018 का प्रकाशित Hands and Feet : Living Out Gods Live For All His Children आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओं की मदद से हमने अपने युवाओं व पाठको को निक वुजिसिक का पूरा करियर परिचय व उपलब्धियों की जानकारी प्रदान की ताकी आप उनके निजी जीवन के साथ – साथ सामाजिक जीवन को भी करीब से देख पायें।

सारांश:

निक वुजिसिक के प्रेरणादायी जीवन पर आधारित इस लेख में, हमने दैनिक जीवन में, छोटी – छोटी समस्याओं के कारण तनाव, दबाव, व्याकुलता और जीवन से हार मानने व हताश होने वाले लोगो को Nick Vujicic Biography In Hindi : महामानव निक वुजिसिक का प्रेरणादायी जीवन परिचय के बारे में, बताया ताकि हमारे सभी पाठक उनके प्रेरणा व प्रोत्साहन प्राप्त करके एक नये ऊर्जावान जीवन की शुरुआत कर सकें।

अन्त, हम, पूरी आशा है कि, आपको हमारा प्रेरणा व प्रोत्साहन को समर्पित ये लेख प्रेरणादायी लगा होगा और इसीलिए आप हमारे इस लेख को लाइक करेंगे, शेयर करेंगे और साथ ही साथ अपनी विचार व अन्य सुझाव हमें, कमेंट करके बतायेगें।

 

इन्हे भी जरूर पढ़े:-

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement